April 18, 2021

Tej Times News

Satyam Sarvada

लखनऊ : जब सिपाही चोरी करते पकड़ा गया, पीटा गया….

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में हुसैनगंज के वी-मार्ट मॉल में चोरी करते हुए एक पुलिस विभाग के कांस्टेबल को लोगों ने दबोच लिया और उसकी जमकर पिटाई कर दी। इसके बाद उसे पुलिस के हवाले कर दिया गया।

आरोपी सिपाही ने वर्दी के नीचे वी मार्ट से चोरी की हुई तीन शर्ट पहन रखी थी। इस वारदात की वीडियो गुरुवार देर शाम को सोशल मीडिया पर वायरल हो गई।

वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर ने आरोपी सिपाही को निलंबित कर दिया। वहीं उसके खिलाफ जांच के आदेश दिए हैं।

बताया जा रहा है कि आरोपी सिपाही पुलिस लाइन में तैनात था। प्रभारी निरीक्षक हुसैनगंज दिनेश कुमार बिष्ट के मुताबिक सिपाही आदेश कुमार पुलिस लाइन में तैनात है। वह हुसैनगंज चौराहे पर स्थित वी-मार्ट मॉल में गया था। उसने तीन शर्ट पसंद की। उसे पहनने के बाद वर्दी डाल दी। इसके बाद बाहर निकलने लगा।

डिटेक्टर के सिगनल से दबोचा गया
शर्ट चोरी कर जाते समय सिपाही मेटल डिटेक्टर के पास पहुंचा ही था। तभी सिगनल पर तेजी से बीप की आवाज आने लगी। इस पर कर्मचारियों ने रोक लिया। इस दौरान कहासुनी होने लगी।

मारपीट के बाद पहुंचे इंस्पेक्टर हुसैनगंज दिनेश कुमार बिष्ट पहुंचे। उन्होंने मामले को शांत कराया। इसके बाद सिपाही से तीनों शर्ट की कीमत अदा करने को कहा। उसकी रसीद भी सिपाही ने हासिल कर ली।

पुलिस के मुताबिक वारदात 21 फरवरी की है। जिसका वीडियो गुरुवार को सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। पुलिस के मुताबिक आरोपी सिपाही गोमतीनगर विस्तार में तैनात था। उसे हाल ही में पुलिस लाइन भेजा गया था।

गुरुवार की शाम को सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल हुआ। वीडियो वायरल होने की जानकारी होते ही पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर ने आरोपी सिपाही आदेश कुमार को तत्काल निलंबित कर दिया।

वहीं सिपाही के खिलाफ जांच का आदेश दे दिया है। जांच में आरोप सही पाए जाने के बाद नौकरी से बर्खास्त भी किया जा सकता है। उधर, सिपाही की वर्दी में पिटाई करने के मामले में मॉल कर्मचारियों के खिलाफ भी पुलिस कार्रवाई की तैयारी कर रही है।

वी मार्ट से और पिटने वाले सिपाही की तहरीर मिलने के बाद मुकदमा दर्ज कर सभी आरोपियों पर कार्यवाही की जाएगी। हालांकि प्रभारी निरीक्षक दिनेश कुमार बिष्ट के मुताबिक गुरुवार देर शाम को तहरीर नहीं मिली थी। तहरीर मिलने पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।