February 26, 2021

Tej Times News

Satyam Sarvada

होम्योपैथी के लिए निराशाजनक बजट

बजट में होम्योपैथी को उपलब्ध कराई धनराशि ऊँट के मुँह में जीरा भी नहीं…

लखनऊ। केंद्रीय होम्योपैथी परिषद के पूर्व सदस्य डॉ अनुरूद्व वर्मा ने उत्तर प्रदेश के बजट को होम्योपैथी के लिए निराशाजनक बताया है। उन्होंने कहा है कि बजट में नये होम्योपैथिक कॉलेजों, होम्योपैथिक चिकित्सालयों, रोजगार के सृजन, शोध संस्थानों, नई योजनाओं एवँ कार्यक्रमों के लिए कोई प्रावधान नहीं किया गया है।

उन्होंने कहा कि बजट में मात्र 4 करोड़ रुपये की व्यवस्था चिकित्सालयों के निर्माण के लिए की गईं है। उन्होंने कहा कि अपेक्षाकृत कम खर्चीली, सुलभ, दुष्परिणाम रहित, सम्पूर्ण स्वास्थ्य प्रदान करने वाली पद्धति होम्योपैथी के विकास के लिए बजट में प्रावधान न किया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है।

उन्होंने कहा जबकि प्रदेश की जनता को केवल होम्योपैथी द्वारा कम खर्च, एवँ अल्प संसाधनों में ही सबको स्वास्थ्य की सुविधा उपलब्ध कराई जा सकती है। उन्होंने कहा कि बजट में होम्योपैथी को उपलब्ध कराई धनराशि ऊँट के मुँह में जीरा भी नहीं है।

उन्होंने कहा कि इस नाकाफी बजट से होम्योपैथी चिकित्सकों में घोर निराशा व्याप्त है क्योंकि इससे होम्योपैथी जैसी विकासशील चिकित्सा पद्धति का समुचित विकास नहीं होगा जिससे जनताहोम्योपैथी का पूरा लाभ नहीं उठा पायेगी।

डॉक्टर अनुरुद्ध वर्मा ने सरकार से पुरजोर अपील करते हुए सरकार से होम्योपैथी को स्वास्थ्य बजट का 33% उपलब्ध कराने की मांग की है।