February 26, 2021

Tej Times News

Satyam Sarvada

मध्य प्रदेश : नहर में बस गिरने से 47 की मौत

मध्य प्रदेश के सीधी में यात्रियों से भरी बस अनियंत्रित होकर नहर में जा गिरी और गहरे पानी में समा गई। इस हादसे के शिकार बने अब तक 47 लोगों के शव निकाले जा चुके है। 7 लोगों की जान बचाई गई है। बताया गया है कि सीधी से सतना की ओर जा रही बस में लगभग 54 यात्री सवार थे। बस रामपुर थाना क्षेत्र में मंगलवार की सुबह लगभग साढ़े सात बजे बाण सागर बांध की नहर में अनियंत्रित होने के बाद जा गिरी। नहर में पानी बहुत अधिक होने के कारण बस पूरी तरह डूब गई। वहीं, बाण सागर की ओर से आने वाले पानी को रोके जाने के बाद जल स्तर कम हुआ। उसके बाद राहत और बचाव दल के सदस्य पहुंच पाए।

मुख्यमंत्री ने दो मंत्रियों तुलसीराम सिलावट और रामखेलावन पटेल को सीधी भेजा है। शिवराज सिंह चौहान ने इस हादसे के मद्देनजर राज्य में एक लाख परिवार के प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत होने वाले गृह प्रवेशम कार्यक्रम को टाल दिया। कैबिनेट को भी स्थगित कर दिया गया। इसके अलावा अन्य कार्यक्रमों को भी रद कर दिया। पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने इस हादसे पर दुख व्यक्त करते हुए कहा, प्रदेश में सीधी से सतना जा रही बस के नहर में गिर जाने की दुखद खबर सामने आई है। कई यात्रियों के हताहत होने की जानकारी सामने आई है। पीड़ित परिवारों को हर संभव मदद की जाए।

बताया जा रहा है कि सीधी से सतना जाने वाली बस ने तय रास्ते के बजाय संकरे रास्ते को चुना, क्योंकि मुख्य रास्ते पर जाम की सूचना मिली थी। इसी दौरान यह बस जब बाण सागर बांध की नहर के पास से गुजर रही थी, तभी नियंत्रण बिगड़ा और पुल से जा टकराई। उसके बाद बस नहर में जा समाई।

मध्य प्रदेश के सीधी में यात्रियों से भरी बस अनियंत्रित होकर नहर में जा गिरी और गहरे पानी में समा गई। इस हादसे के शिकार बने अब तक 47 लोगों के शव निकाले जा चुके है। 7 लोगों की जान बचाई गई है। बताया गया है कि सीधी से सतना की ओर जा रही बस में लगभग 54 यात्री सवार थे। बस रामपुर थाना क्षेत्र में मंगलवार की सुबह लगभग साढ़े सात बजे बाण सागर बांध की नहर में अनियंत्रित होने के बाद जा गिरी। नहर में पानी बहुत अधिक होने के कारण बस पूरी तरह डूब गई। वहीं, बाण सागर की ओर से आने वाले पानी को रोके जाने के बाद जल स्तर कम हुआ। उसके बाद राहत और बचाव दल के सदस्य पहुंच पाए।

मुख्यमंत्री ने दो मंत्रियों तुलसीराम सिलावट और रामखेलावन पटेल को सीधी भेजा है। शिवराज सिंह चौहान ने इस हादसे के मद्देनजर राज्य में एक लाख परिवार के प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत होने वाले गृह प्रवेशम कार्यक्रम को टाल दिया। कैबिनेट को भी स्थगित कर दिया गया। इसके अलावा अन्य कार्यक्रमों को भी रद कर दिया। पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने इस हादसे पर दुख व्यक्त करते हुए कहा, प्रदेश में सीधी से सतना जा रही बस के नहर में गिर जाने की दुखद खबर सामने आई है। कई यात्रियों के हताहत होने की जानकारी सामने आई है। पीड़ित परिवारों को हर संभव मदद की जाए।

बताया जा रहा है कि सीधी से सतना जाने वाली बस ने तय रास्ते के बजाय संकरे रास्ते को चुना, क्योंकि मुख्य रास्ते पर जाम की सूचना मिली थी। इसी दौरान यह बस जब बाण सागर बांध की नहर के पास से गुजर रही थी, तभी नियंत्रण बिगड़ा और पुल से जा टकराई। उसके बाद बस नहर में जा समाई।